WWE की रिंग में सूट-सलवार पहन कुश्ती करती कविता ने मचाई धूम……..

0
198
views

डब्‍ल्‍यूडब्‍ल्‍यूई में अक्‍सर विदेशी पहलवानों को ही लड़ते देखने वाले दर्शकों के लिए यह शानदार मौका था, जब इस रिंग में उन्‍हें पहली भारतीय पहलवान नजर आई. बता दें कि इस रिंग में उतरीं कविता देवी द ग्रेट खली की शिष्या हैं.

नई दिल्‍ली: अगर आप डब्‍ल्‍यूडब्‍ल्‍यूई (WWE) देखते हैं तो आपने रिंग में होने वाली इस रेसलिंग में कई नजारे देखें होंगे. लेकिन आज हम जो आपको दिखाने और बताने वाले हैं, वह देख कर आप दंग रह जाएंगे. भारतीय महिलाओं को सूट सलवार पहनकर घर में रहने की सलाह दी जाती है, लेकिन कविता देवी जब सूट-सलवार और चुन्‍नी पहनकर रेसलिंग के रिंग में उतरी तो सब देखते रह गए. नहीं, यह कोई फिल्‍मी सीन नहीं है बल्कि डब्‍ल्‍यूडब्‍ल्‍यूई में पहली बार एक भारतीय महिला पहलवान पहुंची है, जिनका नाम है कविता देवी. 34 वर्षीय कविता देवी की फाइट का पहला वीडियो डब्‍ल्‍यूडब्‍ल्‍यूई ने अपनी ऑफिशल वेबसाइट पर रिलीज किया है. इस वीडियो में कविता न्यूजीलैंड की रैसलर डकोटा काई के साथ रिंग में लड़ती हुई नजर आ रही हैं और सूट-सलवार में रिंग में उतरी कविता ने इस लेडी पहलवान की हालत खबरा कर दी.

कविता देवी द ग्रेट खली की शिष्‍या हैं.

डब्‍ल्‍यूडब्‍ल्‍यूई में अक्‍सर विदेशी पहलवानों को ही लड़ते देखने वाले दर्शकों के लिए यह शानदार मौका था, जब इस रिंग में उन्‍हें पहली भारतीय पहलवान नजर आई. बता दें कि इस रिंग में उतरीं कविता देवी द ग्रेट खली की शिष्या हैं.  WWE ने 14 जुलाई से शुरु हुए ‘मे यंग क्लासिक’ टूर्नामेंट के वीडियो रिकॉर्ड किए थे जिन्हें अब धीरे-धीरे यूट्यूब पर डाल जा रहा है. इस मैच के पहले ही राउंड में कविता देवी हारकर बाहर हो गई थीं लेकिन वे इस रिंग में उतरने वाली पहली भारतीय महिला जरूर बन गई हैं. उनका मुकाबला 32 विमेन के इस एलिमिनेशन टूर्नामेंट में डकोटा काई के साथ हुआ.

इस टूर्नामेंट का आयोजन WWE की ग्रेटेस्ट विमेन रेसलर्स में से एक रहीं WWE हॉल ऑफ फेमर ‘मे यंग’ की याद में किया गया है. यह एक एलिमिनेशन टूर्नामेंट हैं जिसमें दुनिया के कई देशों से टॉप महिला रैसलर्स ने हिस्सा लिया. कविता देवी के मुकाबले की बात करें तो रिंग में लड़ाई के दौरान कविता और डकोटा के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला. लेकिन इस हार्ड हिटिंग कॉन्टेस्ट में डकोटा की स्पीड और ताकत के सामने कविता ज्यादा देर तक टिक नहीं पाईं. काई ने एक बेस रनिंग किक और टॉप रोप से सोल स्टोम्प ऑफ लगाकर जीत दर्ज की.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here