स्पेन के बार्सिलोना में ISIS आतंकी ने भीड़ में घुसाई वैन, 13 की मौत…..

0
78
views
epa06148678 Mossos d'Esquadra Police officers and emergency service workers move an injured after a van crashes into pedestrians in Las Ramblas, downtown Barcelona, Spain, 17 August 2017. According to initial reports a van crashed into a crowd in Barcelona's famous Placa Catalunya square at Las Ramblas area injuring several. Local media report the van driver ran away, metro and train stations were closed. The number of people injured and the reasons behind the incident are not yet known. Official sources have not confirmed that the incident is a terrorist attack. EPA/Quique Garcia FACES PIXELATED BY SOURCE DUE TO LOCAL LAW
स्पेन के बार्सिलोना में ISIS आतंकी ने भीड़ में घुसाई वैन, 13 की मौत, पुलिस ने मार गिराए 4 संदिग्ध

स्पेन के बार्सिलोना में एक भीड़-भाड़ वाली सड़क पर एक ड्राइवर ने अपना वैन भीड़ में घुसा दिया, जिसमें कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई. वहीं स्पैनिश पुलिस का कहना है कि उन्होंने कैम्ब्रिल्स में एक दूसरे संभावित आतंकी हमले को रोकते हुए पांच संदिग्ध आतकियों को मार गिराया है. पुलिस ने बताया कि इन संदिग्धों ने विस्फोटक बेल्ट पहन रखी थी. खुद को इस्लामिक स्टेट बताने वाले आतंकी संगठन आईएसआईएस ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है.

क्षेत्रीय गृहमंत्री जोआकिम फोर्न ने एक ट्वीट में कहा, ‘हम पुष्टि कर सकते हैं कि 13 लोगों की मौत हुई और 50 से ज्यादा लोग घायल हुए.’ पुलिस ने बताया कि वैन का ड्राइवर फरार है, जबकि उन्होंने दो संदिग्धों को गिरफ्तार किया है, जिनमें से एक स्पैनिश और दूसरा मोरक्को का नागरिक बताया जा रहा है.

पुलिस के मुताबिक, इस हमले की चपेट में 18 देशों के नागरिक आए हैं जिनमें जर्मनी, रोमानिया, इटली, अलजीरिया, चीन जैसे देश शामिल हैं. वहीं विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर कहा कि वह स्पेन में भारत के दूतावास के साथ लगातार संपर्क में हैं. उन्होंने बताया कि अभी तक मिली जानकारी के मुताबिक किसी भारतीय के मरने की खबर नहीं है. उन्होंने ट्विटर पर बार्सिलोना हमले के लिए इमर्जेंसी नंबर +34-608769335 भी दिया.

बता दें कि लास रामब्लास नाम की जिस जगह पर यह हमला हुआ, वह बर्सिलोना का हॉट स्पॉट माना जाता है. यहां पर दुकानों और रेस्तरां की भरमार है, जहां पर्यटकों का जमघट लगा रहता है और कई कलाकार देर रात तक अपनी कला का प्रदर्शन करते हैं.

हमले वाली जगह पर मौजूद चश्मदीदों ने बताया कि लोग अचानक एक के ऊपर एक गिरने लगे और वहीं दूसरे लोग अपनी जान बचाकर भागने लगे. वहीं पास ही की एक दुकान में काम करने वाले शावी परेज ने कहा, ‘वहां काफी नुकसान हुआ. फर्श पर लोगों की लाश थी, जिसके बगल में लोग शोर मचा रहे थे. लोग जोर-जोर से पुकार रहे थे. वहां काफी विदेशी थे.’

एक अन्य चश्मदीद आमिर अनवर ने ब्रिटेन के स्काई न्यूज टेलीविजन से कहा कि वह लास रमब्लास की ओर जा रहे थे, जहां पर्यटकों का तांता लगा हुआ था. उन्होंने कहा, ‘यह सब अचानक हुआ. मैंने जोर से कुचलने की आवाज सुनी और सड़क से लोगों को इधर-उधर भागते हुए देखा. मैंने बगल में एक महिला को अपने बच्चों के साथ मदद के लिए पुकारते देखा.’

वहीं चैरिटी डायरेक्टर एथन स्पीबे ने कहा घटना के बाद उन्होंने और कई दूसरे लोगों ने खुद को पास के एक गिरजाघर में बंद कर लिया. उन्होंने कहा, ‘अचानक यह सब ऐसे हुआ कि अफरातफरी मच गई. लोग दहशत में भागने लगे.  एक तरह से भगदड़ सी मच गई थी.

हाल के वर्षों में समूचे यूरोप में गाड़ियों को भीड़ में घुसा कर हमले की कई घटनाएं देखने को मिली हैं. हालांकि स्पेन ऐसे हमलों से बचा हुआ था, जबकि पास की फ्रांस, बेल्जियम और जर्मनी में इस तरह की घटनाएं हो चुकी है.

इस हमले के बाद बार्सिलोना की सड़कों पर अफरातफरी और दुनिया भर के नेताओं ने घटना की निंदा की है. स्पेन के शाही परिवार ने घटना की निंदा करते हुए कहा है कि उनका देश अतिवादियों के ‘आतंक’ के सामने नहीं झुकेगा.

वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘स्पेन के बार्सिलोना में आतंकी हमले की अमेरिका निंदा करता है और हम हरसंभव सहायता करेंगे.’ फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रो ने कहा कि उनकी संवेदनाएं ‘त्रासद हमले’ के पीड़ितों के प्रति है. जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने हमले की निंदा की. ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने ट्विटर पर कहा कि आतंकवाद के खिलाफ लंदन स्पेन के साथ है.

बेरूत से मिली खबर में एक अमेरिकी निगरानीकर्ता के मुताबिक, आतंकवादी संगठन आईएसआईएस के प्रचार संगठन अमाक ने कहा है कि इस्लामिक स्टेट के ‘सैनिकों’ ने बार्सिलोना में वैन से हमला किया. खुफिया समूह एसआईटीई ने अमाक के हवाले से कहा है, ‘बर्सिलोना हमले को अंजाम देने वाले इस्लामिक स्टेट के सैनिक थे.’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here