9/11 अटैक: इस शख्स से मिला था लादेन को प्लेन टकराने का आइडिया

0
97
views
2 मई, 2011 में अमेरिका सील कमांडो ने पाकिस्तान के एबटाबाद में छिपे लादेन को मौत के घाट उतार दिया था।
9/11 अटैक: इस शख्स से मिला था लादेन को प्लेन टकराने का आइडिया, international news in hindi, world hindi news
वर्ल्ड ट्रेड सेंटर से विमान टकराने के बाद उठा आग का गुबार। इनसेट में लादेन (बाएं) और गामिल (दायीं ओर)।
इंटरनेशनल डेस्क.अमेरिका के न्यूयॉर्क में 11 सितंबर 2001 को हुए वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर हुए आतंकी हमले को आज 16 वर्ष हो चुके हैं। आतंकी संगठन अलकायदा ने प्लेन को हाइजैक कर मिसाइल की तरह इस आतंकी हमले को अंजाम दिया था। इस हमले में तकरीबन तीन हजार लोगों की मौत हो गई थी। इस अटैक के पीछे दुनिया के सबसे खूंखार आतंकी और अलकायदा चीफ ओसामा बिन लादेन का दिमाग लगा था। इसके बाद 2 मई, 2011 में अमेरिका के सील कमांडो ने लादेन को मौत के घाट उतार दिया था।एक पायलट से मिला था बिल्डिंग से प्लेन टकराने का आइडिया… 
– ‘द यरूशलेम पोस्ट’ के मुताबिक, 1999 में गामिल अल-बतौती नामक पायलट ने इजिप्ट एयर के एक विमान को समुद्र में गिरा दिया था। – यह विमान लॉस एंजिलिस से काहिरा जा रहा था। हादसे में पायलट गामिल समेत 217 यात्री मारे गए थे, जिसमें 100 अमेरिकी नागरिक भी थे।
– लादेन ने जब इस घटना के बारे में सुना तो उसके दिमाग में फौरन ये आइडिया आया कि क्यों न विमान को किसी इमारत पर क्रैश करवा दिया जाए?- इसके बाद उसने इसी तरह की साजिश पर काम करना शुरू कर दिया और दो साल बाद 2001 में प्लेन हाइजैक कर अमेरिका में सबसे बड़े आतंकी हमले को अंजाम दिया
अपनी कंपनी से नाराज था गामिल
– गामिल के बारे में अलकायदा की वीकली मैग्जीन ‘अल-मसराह’ में एक आर्टिकल पब्लिश हुआ था।
– इसके मुताबिक 59 साल का गामिल एक अनुभवी पायलट था। 31 अक्टूबर 1999 को वह लॉस एंजिलिस से काहिरा के लिए उड़ा था।
– शुरू में इस विमान के गिरने को आतंकी साजिश माना गया, लेकिन बाद में खुलासा हुआ कि कंपनी से नाराज होकर गामिल ने प्लेन को समुद्र में गिरा दिया था।
गामिल ने प्लेन की फ्लाइट सेटिंग में किया हेरफेर
– दरअसल गामिल के खिलाफ डिपार्टमेंटल जांच चल रही थी और उस पर विमान उड़ाने को लेकर प्रतिबंध भी लगने वाला था।
– फ्लाइट रिकॉर्डर से पता चला था कि प्लेन के टेकऑफ होते ही गामिल ने फ्लाइट सेटिंग में हेरफेर किया, जिससे प्लेन समुद्र में गिर गया था।
– प्लेन क्रैश होने से पहले वह जोर-जोर से कह कह रहा था- ‘मुझे खुदा पर यकीन है’।
18 आतंकियों ने हाईजैक किए थे 4 विमान
– 9/11 हमले में 3000 लोग मारे गए थे और मरने वालों में 57 देशों के लोग शामिल थे। इसे अंजाम देने के लिए अलकायदा के 18 आतंकियों ने चार विमानों को हाईजैक किया था।
– दो विमानों को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर जबकि एक विमान को पेंटागन पर गिराया गया था। वहीं चौथा विमान मैदान में गिरा था, क्योंकि इसके यात्रियों आतंकियों से भिड़ गए थे।
– मई, 2011 में पाकिस्तान के एबटाबाद में छिपे ओसामा बिन लादेन का खात्मा कर अमेरिका ने हजारों अमेरिकी और विदेशी नागरिकों की मौत का बदला ले लिया था

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here