हमिद अंसारी 6 महीने पाकिस्तान रहकर देखें – सांसद साक्षी महाराज

0
81
views
गुरुवार को नगर के पूर्वी बाईपास स्थित एक निजी इंस्टीट्यूट में उन्होंने पत्रकारों से कहा कि मदरसों में राष्ट्रीय ध्वज फहराना व राष्ट्रगान गाने का मामला उन्होंने बहुत पहले उठाया था। सरकार ने इसको अब अमल में लाने का आदेश दिया है। मुस्लिमों को मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की खूब जानकारी है, लेकिन भारतीय संविधान को जानने का कोई प्रयास नहीं करता है। देश में रहने वाले सभी लोगों को संविधान के अनुरूप रहकर ही कार्य करने चाहिए।

पत्थरबाज व आतंकवाद फैलाने वालों को अब हिन्दुस्तान में रहने की जगह नहीं मिलेगी। लव जिहाद एक अभिशाप है। इस पर कई माह पहले मामला उठाया था। अब न्यायालय ने मामला स्वत: संज्ञान लेकर बड़ी एजेंसी को जांच सौंप दी है। जल्द ही इसमें छिपे राज सामने आ जाएंगे। इसमें हर लड़की की धर्म के अनुसार कीमत लगाई जाती है। शादी का झांसा देकर इनको बेच दिया जाता है। इसके बाद यह सभी सीरिया में आतंकवादियों के शोषण का शिकार होती हैं।

उन्होंने कहा कि देश में अल्पसंख्यक आयोग व दलित आयोग को राष्ट्रीय दर्जा हासिल है। लेकिन पिछड़ा वर्ग को यह संवैधानिक दर्जा आज तक हासिल नहीं हो सका है। गायों के सड़कों पर घूमने पर वो बोले कि सरकार प्रत्येक जिले में बड़े स्तर पर गौशाला बनवाने का निर्णय ले चुकी है।



कन्नौज लुटेरों की नहीं बल्कि इत्र और इतिहास की नगरी

एक मंत्री द्वारा कन्नौज को लुटेरों का क्षेत्र कहे जाने की बात पर बोले कि कन्नौज इत्र व इतिहास की नगरी है। यहां कुछ लोग लूटने आए थे। अब उनको ऐसा करने का कोई मौका नहीं दिया जाएगा।

एक्सप्रेस-वे पर हुआ साक्षी का स्वागत
आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर तालग्राम तिराहा के निकट पूर्व चेयरमैन दिनेश शाक्य ने इत्रदान भेंट कर साक्षी महाराज का स्वागत किया। अरुण कुमारी शाक्य, हरनाथ राजपूत, नीलू चौहान, निर्भय पटेल, रामऔतार शाक्य, रजनेश राजपूत आदि लोगों ने फूलमालाओं से स्वागत किया।

राज्यसभा सांसदों को साक्षी ने बता डाला जल्लाद 

सपा, बसपा और कांग्रेस के राज्यसभा सांसदों को साक्षी ने जल्लाद बताया। उन्होंने कहा कि राज्यसभा में सपा बसपा के जल्लादों के कारण पिछड़ा वर्ग आयोग बिल को मंजूरी नहीं मिली। जिस कारण पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा नहीं मिल पाया।

औरैया में हंगामे पर सपा पर निशाना साधा

साक्षी ने कहा कि औरैया में सपा की तरफ से एक अपराधी नामांकन करवाना चाहता था। भाजपा शासन में भी अपराधी राजनीति करें यह सम्भव नहीं। हंगामा करने वाले सब सपा के गुंडे थे। पूर्व राष्ट्रपति हामिद अंसारी के बयान पर उन्होंने कहा कि खतरा आस्तीनों के सांप को है। खतरा पत्थरबाजों को हैं। शायद हामिद अंसारी उनकी ही बात कर रहे होंगे। मोदी युग में किसी को कोई खतरा नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here