3 साल बाद हुआ इस बच्चे का पुनर्जन्म! बाप का नाम बताया- विदेशी

0
193
views

यूपी के लखीमपुर में एक हैरतंगेज मामला सामने आया है। यहां अचानक ही एक 3 साल का बच्चा अपने पुनर्जन्म की कहानी सुनाने लगा।

लखीमपुर.यूपी के लखीमपुर में एक हैरतंगेज मामला सामने आया है। यहां अचानक ही एक 3 साल का बच्चा अपने पुनर्जन्म की कहानी सुनाने लगा। उसकी बातें सुनकर परिजनों के साथ-साथ गांव के लोग भी हैरान रह गए। वो टूटी-फूटी बोली में कहता- ”मेरा घर तो भोलापुर में है और मेरे पापा तो विदेशी है।” बेटे की जिद के बाद मां-बाप उसे पुनर्जन्म के परिवार से मिलने पहुंचे। यहां आकर पूर्व जन्म की न सिर्फ बातें बताईं और बल्कि हर समान की निशानदेही की।15 अगस्त 2015 को हुआ जीतन का जन्म…
– मामला मैलानी थाना क्षेत्र के मक्कागंज गांव का है। यहां शिवकुमार पत्नी रामबेटी और बेटी रेनू के साथ रहता है।
– 15 अगस्त 2015 को युवक की पत्नी ने एक बेटे को जन्म दिया। उसका नाम जीतन रखा गया।
– 15 अगस्त 2017 को जब वो 3 साल का हुआ, तो टूटी-फूटी बोली में मां और पिता से कहता- ”मेरा घर तो भोलापुर में है और पापा का नाम विदेशी है।”
– पिता के मुताबिक, ”रक्षा बंधन के मौके पर जब उसकी बहन ने राखी बांधने लगी, तो उसने मना कर दिया और कहा-  उसकी बहनें भोलापुर में हैं।”
–  ”बेटे के जिद करने पर उसे भोलापुर लेकर गए। विदेशी के घर पहुंचते ही वो चिल्लाकर बोला- ”यही मेरे पापा हैं।”
ये है पुनर्जन्म से जुड़ा मामला
– भोलापुर गांव के विदेशी ने बताया कि उनका बेटा दिलीप ठेकेदारी में काम करने बेंगलुरु गया और वहां पर 17 मई 2012 को समुद्र में नहाते वक्त उसकी मौत हो गई थी।
– उस वक्त बेटा की उम्र 30 साल की थी। दूरी ज्यादा होने की वजह से उसकी डेडबॉडी घर नहीं ला पाए। वहीं पर अंतिम संस्कार करना पड़ा था। परिवार में एक बेटा और 6 बेटियां हैं।

 

घर के हर सामान की पहचान
– विदेशी के मुताबिक, ”जब पहली बार बच्चा मेरे घर आया तो कुछ सामान को देखकर बताने लगा कि वो उसका है। मेरी पत्नी बसंती को देखकर बच्चे ने अपनी मां बताया।
– तीन साल के बच्चे की यह सब बातें सुनकर दोनों परिवार ही नहीं बल्कि गांव के लोग भी चौंक गए। वो गांव के बुजुर्गों के नाम भी बता देता।

 

ननिहाल में भी सभी को पहचाना
– विदेशी ने बताया कि पत्नी बच्चे को लेकर अपने मायके गई तो वहां पर भी उसने नानी, मामा सभी को पहचानकर नाम से पुकारा।
– लाख कोशिशों के बाद भी बच्चा अपने पिता के रूप में उनका ही नाम बताते हुए अपना नाम दिलीप ही बताता है। दोनों परिवारों में बच्चे को लेकर किसी प्रकार मतभेद नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here