हनीप्रीत के पति विश्वास गुप्ता ने किये राम रहीम और हनीप्रीत के रिश्तों के कई खुलासे….

0
102
views

हनीप्रीत के पूर्व पति ने शुक्रवार को चंडीगढ़ प्रेस क्लब में कई खुलासे किए हैं। राम रहीम जिस हनीप्रीत को गोद लेने का दावा

चंडीगढ़. हनीप्रीत के पूर्व पति ने शुक्रवार को चंडीगढ़ प्रेस क्लब में कई खुलासे किए हैं। राम रहीम जिस हनीप्रीत को गोद लेने का दावा करते हैं, उसके पति ने ही दोनों के बीच अवैध संबंध के आरोप लगाए हैं।
– प्रेस कॉन्फ्रेंस में विश्वास गुप्ता ने कहा कि जो कुछ भी डेरे में होता था वो बिना बाबा की इजाजत के नहीं होता था। ये लोग घूमने लग गए और बीमार होता गया। ये सब डेढ़ साल तक 2011 तक चला।
– 2011 में बाबा और मेरा कमरा साथ-साथ था। मैं बेचैन रहता था। मैं रात को बाहर आया। बाबा के कमरे के पास देखा तो वो दोनों न्यूड थे और सेक्स कर रहे थे।
– बाबा ने भी मुझे देख लिया। उसने मुझे धमकी दी कि अगर तूने किसी को ये बताया तो उनकी तो जान नहीं बचेगी तू तो वैसे भी बचेगा नहीं।
– इसके बाद मैं अपने पिता के पास आकर ये बताया। इसी दौरान डेरे में मेरे लगाए दो लड़के मेरे पास आए।
– उन लोगों ने बताया कि हमें जीजाजी को मारने के ऑर्डर मिले हैं। उन लड़कों की मदद से हम रातोंरात पंचकूला आ गए। ये सब जुलाई 2011 में हुआ।
– बाद में हम वहां अपने कुछ कागज लेने गए तो बाबा के राइटहैंड ने मेरे सिर पर बंदूक लगा दी। हमें सारी प्रॉपर्टी डेरे के नाम करनी होगी तभी वो मुझे जाने देंगे।
– हमनें सारी प्रॉपर्टी डेरे के नाम कर दी। फिर पंचकूला के सेक्टर 15 में रहने आ गए।
– यहां भी बाबा ने मेरी निगरानी के लिए लोग लगा दिए। मैं जहां जाता था वो मेरे पीछा करते थे।
क्या डेरे में हथियार होते हैं?
– इस सवाल के जवाब में विश्वास गुप्ता ने कहा कि डेरे के अंदर का मुझे तो नहीं पता। लेकिन बाबा जिस गाड़ी से जाता था उसमें हथियारों का बॉक्स होता था।
केस क्यों वापस लिया?
– इस पर विश्वास ने कहा कि मेरे पर दहेज का केस कर दिया गया। मैं मेरी मां और पिता भागते रहे। डेरे के लोग हमारे पीछे लगे थे।
– मेरे रिश्तेदारों ने इस दौरान हमारी बहुत मदद की। करीब तीन महीने बाद कोर्ट ने हमारी सुलह के लिए हनीप्रीत और मुझे बुलाया।
– जज ने पूछा तू चाहती क्या है। तो हनीप्रीत ने कहा कि पहले विश्वास गुप्ता को जेल में डालो फिर ये माफी मांगेगा। फिर सोचूंगी आगे क्या करना है।
– इस केस में मुझे जमानत मिल गई।
– इसी दौरान हम पनीपत शिफ्ट हो गए। इसी दौरान डेरे ने हमारे ऊपर धोखाधड़ी का केस कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here