‘बाहुबली’ का लोगो ने किया जयकारा , कर दिखाया एक और कारनामा…

1
83
views

नई दिल्ली, [स्पेशल डेस्क]। ‘बाहुबली’ एक ऐसी फिल्म जिसने सफलता के झंडे गाड़े। फिल्म का दूसरा हिस्सा यानी ‘बाहुबली-2’ ने भी सफलता की नई इबारत लिख डाली। इस फिल्म ने अपने पहले 100 दिन में ही 1700 करोड़ रुपये की कमाई कर ली थी और यह किसी भी भारतीय फिल्म के लिए ऐतिहासिक सफलता है। बाहुबली के किरदार फिर चाहे वह खुद बाहुबली हो या भल्लालदेव और कटप्पा या शिवगामी देवी यह लोगों की जुबान पर चढ़ गए थे। प्रशंसकों को टिकट पाने के लिए कई दिनों तक इंतजार तक करना पड़ा था। फिल्म के नाम कई रिकॉर्ड दर्ज हुए, लेकिन अब फिल्म के साथ एक ऐसा कारनामा जुड़ा है, जिसे दोहरा पाना किसी फिल्म के लिए आसान नहीं होगा। क्या है यह कारनामा?

ये भी पढें: ऐसे करें लडकियों को आकर्षित – जानें कुछ खास टिप्स

इस पर भी प्रकाश डालेंगे। पहले आप यह बताएं कि एक फिल्म देखने के दौरान आप क्या-क्या कर सकते हैं? ज्यादा से ज्यादा आप पॉपकॉर्न खाने के बारे में सोच सकते हैं। या बहुत हुआ तो फिल्म का लुत्फ लेते हुए लजीज भोजन का भी स्वाद ले सकते हैं। या मोबाइल पर कुछ डाउनलोड कर सकते हैं और किसी को मैसेज भेज या पढ़ सकते हैं। इससे ज्यादा आप एक फिल्म देखने के दौरान क्या कुछ कर सकते हैं? आंध्र प्रदेश के गुंटूर में एक महिला बाहुबली-2 देख रही थी, लेकिन इसी दौरान उसके साथ ऐसा कुछ भी हो रहा था, जिसके बारे में आप कल्पना भी नहीं कर सकते।

ये भी पढें:चीन फिर आया हरकत में- डोकलाम के विवादित इलाके से महज 12 किमी दूर सड़क बनाने में जुटा चीन…

ऐसा क्या हो रहा था?

एक तरफ लैपटॉप पर ‘बाहुबली-2’ फिल्म चल रही थी। महेंद्र बाहुबली और भल्लाल देव एक-दूसरे का खून बहाने पर आमादा थे और फिल्म का रोमांच चरम पर था, वहीं दूसरी तरफ डॉक्टरों ने गुंटूर की इस महिला का सिर खोला हुआ था। जी हां एक तरफ डॉक्टर उसके सिर का ऑपरेशन कर रहे थे और दूसरी तरफ वह यह जानने की कोशिश कर रही थी कि आखिर कटप्पा ने अमरेंद्र बाहुबली को क्यों मारा?

ये भी पढें:राधे मां की जिन्दगी का सफर- 18 की उम्र में शादी, सिलाई कर गुजारा करने वाली लडकी कैसे बनी राधे मां

अवेक ब्रेन सर्जरी थी यह

गुंटूर के एक प्राइवेट मल्टी स्पेशलिटी अस्पताल में पिछले हफ्ते विनया कुमारी नाम की 43 वर्षीय हेड नर्स के ब्रेन ट्यूमर का ऑपरेशन हुआ। ऑपरेशन के दौरान वह फिल्म देखती रही और डॉक्टर ट्यूमर के टिश्यूज को हटाते रहे। इस तरह की सर्जरी को अवेक ब्रेन सर्जरी कहा जाता है। अच्छी बात यह रही कि अपनी फेवरिट फिल्म देखते हुए महिला का ऑपरेशन पूरा हो गया और यह कामयाब भी रहा।

ये भी पढें:शाओमी और आसुस के स्मार्टफोन्स को मिला प्राइज कट, जानें नई कीमत

सर्जरी करने वाली टीम के प्रमुख न्यूरोसर्जन श्रीनिवास रेड्डी ने बताया कि उनके लेफ्ट सेंसरी कोर्टेक्स से ट्यूमर को हटा दिया गया है। उन्होंने यह भी बताया कि सर्जरी के दौरान महिला फिल्म ‘बाहुबली-2’ के तेलुगु संस्करण के गाने ‘डंडालय्या’ को गुनगुना रही थी। फिल्म के हिन्दी संस्करण में यह गाना ‘जय-जय कारा…’ के नाम से है।

ये भी पढें:रितिक के चुप्पी तोड़ते ही कंगना की बहन ने किया सबूत के साथ पलटवार…

फिल्म 3 घंटा 17 मिनट की है, हालांकि यह सर्जरी करीब डेढ़ घंटे ही चली। खबर है कि सर्जरी के पांच दिन बाद उक्त महिला को अस्पताल से डिस्चार्ज भी कर दिया गया है। बता दें कि इसी साल जुलाई में बेंगलुरू में डॉक्टरों ने एक मरीज से ब्रेन की सर्जरी की थी, जबकि इस दौरान वह गिटार बजा रहा था।

 

 

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here