रेपो रेट में RBI ने की 0.25 फीसदी कटौती, सस्‍ता होगा लोन……

0
71
views

नई दिल्‍ली.  रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 25 बेसिस प्‍वाइंट यानी 0.25 फीसदी फीसदी की कटौती की है। कर्ज सस्‍ता कर ग्रोथ में तेजी लाने के लिए रिजर्व बैंक ने यह कदम उठाया है। इससे होम लोन, कार लोन, पर्सनल लोन और बिजनेस लोन सस्‍ता होने के उम्‍मीद है।

होम लोन पर कितनी होगी बचत

होम लोन अमाउंट     पुराना रेट % में     ईएमआई रुपए     नया रेट % में    ईएमआई रुपए में        सालाना बचत रु.

20लाख                         8.10                  16836.00           3984.00          8.35                              17167

 नोट-होम लोन की अवधि 20 साल है। 

कार लोन अमाउंट     पुराना रेट % में     ईएमआई रुपए में     या रेट % में     ईएमआई रुपए में     सालाना बचत रु.

5 लाख                    8.75                     10318.00             8.50             10258.00                     720

अगर रिजर्व बैंक रेट में कटौती करता है तो इससे होम लोन, कार लोन, पर्सनल लोन और बिजनेस लोन सस्‍ता होगा। यानी सभी तरह के लोन की ईएमआई में कमी… आएगी।  – एसबीआई ने हाल ही में सेविंग अकाउंट पर इंटरेस्‍ट में कटौती की है और यह 4% से भी कम हो गया है। ऐसे में रेट कट होने से बैंक.. लोन के रेट में भी कटौती कर सकते हैं।  …

इंडियन बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर किशोर खराट का कहना है कि आरबीआई इस बार दरों में 25 बेसिस प्वॉइंट की कटौती कर सकता है। हालांकि, यह भी लग रहा है…

कि मार्केट में जरूरत के मुताबिक लिक्विडिटी होने की वजह से कैश रिजर्व रेश्‍यो या एसएलआर में शायद ही कोई बदलाव हो।…
हालांकि, एचडीएफसी बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर आदित्य पुरी का कहना है कि रेट कट के बारे में अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है। उनका कहना है कि यह…

ही है कि महंगाई दर कम हुई है, लेकिन क्या आगे भी वह इसी लेवल पर रहेगी। इस बारे में अभी कुछ बताना मुमकिन नहीं है।   …

मेरिल लिंच का भी रेट कट का अनुमान – ग्लोबल रिसर्च फर्म बैंक ऑफ अमेरिका मेरिल लिंच ने भी आरबीआई की पॉलिसी मीटिंग में रेट कट का अनुमान लगाया है। फर्म  के मुताबिक, आरबीआई रेट्स में 0.25% की कटौती कर सकता है।

SBI ने महंगाई पर दी रिपोर्ट – स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (एसबीआई) के मुताबिक, महंगाई दर अपने निचले लेवल पर है, जो जुलाई में 2%, अगस्त-सितंबर में 3%, अक्टूबर से नवंबर… के बीच 4% और दिसंबर से मार्च के बीच 4% से 4.4% रह सकती है। रिपोर्ट के मुताबिक, फाइनेंशियल ईयर 2017-18 में सीपीआई इनफ्लेशन 3.5% रहने का अनुमान है। ..

मॉर्गन स्टैनली ने भी अपनी रिपोर्ट में फाइनेंशियल ईयर 2017-18 और 2018-19 के लिए महंगाई दर का अनुमान कम कर 3.2 फीसदी और 4.3% कर दिया है, जो पहले के… अनुमान में 4% और 4.5% था। …

इंडस्ट्री की भी रेट कट की डिमांड – लो इनफ्लेशन रेट को देखते हुए इंडस्ट्री बॉडी एसोचैम ने भी आरबीआई गवर्नर उर्जित पटेल को लेटर लिखकर 25 बेसिस प्वॉइंट रेट कट बेसिस प्वॉइंट रेट कट की डिमांड की है।  – लेटर में कहा गया है कि इससे इंडस्ट्रियल ग्रोथ को रफ्तार मिलेगी, जिससे इकोनॉमी को भी बूस्ट मिलेगा। बता दें कि इंडस्ट्रियल. ग्रोथ अभी सुस्त है और वहीं, जनवरी-मार्च में इकोनॉमिक ग्रोथ रेट 6.1% रही, जो उम्मीद से कम है।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here