प्रद्युम्न हत्याकांड- चश्मदीद के एक मास्टरस्ट्रोक ने उभारे 5 उभरते सवाल

0
100
views

गुरुग्राम के रायन इंटरनेशनल स्कूल में प्रद्युम्न के कत्ल के बाद पुलिस की थ्योरी और कंडक्टर अशोक के कबूलनामे के बाद उभरे 5 सवालों को घटना के चश्मदीद ने एक मास्टरस्ट्रोक ने झुठला दिया।

1. वारदात के बाद जब कंडक्टर अशोक ने अपना जुर्म कबूला तो प्रद्युम्न के माता-पिता यह मानने को तैयार नहीं थे कि कंडक्टर दोषी है। चश्मदीद सुभाष ने आज स्पष्ट कर दिया कि उन्होंने पियोन जैसे एक शख्स को खून से सने कपड़े पहने से देखा था। उसकी कमीज पर आगे बहुत खून लगा था। बाद में टीवी पर देखकर उसे पता चला कि वह आरोपी कंडक्टर अशोक ही था।

2. प्रद्युम्न के पिता वरुण ठाकुर का कहना था कि स्कूल प्रबंधन के खिलाफ बहुत सारी कड़ियां हैं, जिन्हें जानबूझकर नजर अंदाज दिया गया। चश्मदीद सुभाष ने कहा कि वे रायन स्कूल में ही पढ़ने वाले एक बच्चे के पिता हैं। वह अपने किसी काम से उस वक्त स्कूल आए थे और जब प्रद्युम्न के शव को अस्पताल ले जाया जा रहा था तो वो वहीं थे। उनका दावा है कि उन्होंने ही पुलिस रिसेप्शन पर बैठी मैडम को पुलिस का नंबर दिया था और कॉल करने को कहा था।

 

3. तीसरा सवाल ये था कि यदि कंडक्टर अशोक ने ही हत्या की है तो उसकी शर्ट पर खून के निशान क्यो नहीं मिले? चश्मदीद सुभाष ने कहा कि उन्होंने आरोपी कंडक्टर अशोक को अपनी कमीज धोने और उतारने से मना किया था। लेकिन इसके बावजूद उसने अपनी शर्ट धो दी। इसके बाद सुभाष ने उसे बहुत डांटा भी था। तब उसने कहा था कि खून से बदबू आ रही थी।

4. चौथा सवाल यह है कि जब जिस जगह पर हत्या हुई थी उसे साफ क्यों करा दिया गया? क्या स्कूल प्रशासन और पुलिस ने सबूत मिटाने के लिए उस जगह को साफ करवाया गया। चश्मदीद सुभाष ने कहा कि जिस जगह वारदात हुई थी उसे साफ करने को उन्होंने मना किया था। इसके साथ ही उन्होंने बाथरूम का दरवाजा भी बंद करा दिया था। लेकिन जब बाद में उन्होंने देखा तो कॉरिडोर से खून साफ कर दिया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here