नोटबन्दी से जुडी 10 जरूरी बातें जो आपको नहीं मालूम..

0
334
views
  1. नोटबंदी को  एक साल पूरा होने पर सरकार इसे बड़ी सफलता बताती है तो विपक्ष इसे बड़ी असफलता. नोटबंदी पर दोनों ही ओर से आंकड़ों की बाजीगरी कुछ इस तरह से हुई है कि जनता इसमें उलझ कर रह गई है.  हम आपको नोटबंदी पर कुछ  बातें बताने जा रहे हैं जो पहले आपने नहीं  सुनी होंगी.
  2. नोटबंदी पर एक और बात जिसे जानना बेहद जरूरी है वो ये कि कई देशों में नोटबंदी की कोशिशें फेल हुईं और कई देश तो इसे लेकर इतना खौफजदा रहे कि इसे लागू ही नहीं कर पाए. सोवियत यूनियन, घाना, नाइजीरिया, जायरे, उत्तर कोरिया और बर्मा जैसे देशों में ये प्रयोग बेहद असफल रहा
  3. नोटबंदी के बाद इनकम टैक्स भरने वालों की संख्या में भारी बढ़ोत्तरी दर्ज की गई. इस बार करीब 25 फीसदी अधिक लोगों ने इनकम टैक्स भरा. यानि सरकार का खजाना भरने लगा जिसके लिए अक्सर कहा जाता था कि वह खाली है और भरने पर इसका इस्तेमाल विकास कार्यों के लिए किया जाएगा.
  4. जैसे ही नोटबंदी की घोषणा हुई हडकंप मच गया. कई जगहों से खबरें आईं कि नोटों को या तो जला दिया गया या फिर फाड़ कर फेंक दिया गया. नोटबंदी के बाद आयकर विभाग सक्रिय हुआ और कई जगहों पर छापेमारी की जिसमें 4 हजार करोड़ की अघोषित आय का खुलाया हुआ. ये आंकडा सिर्फ 30 दिसंबर 2016 तक का है.
  5. बैंकों का कहना है कि नोटबंदी से 99 फीसदी नोट वापस मिल गए जबकि दूसरी ओर यह आंकड़ा भी सामने आता है कि 16 हजार करोड़ वापस नहीं लौटे. आरबीआई ने एक बयान में कहा कि 15.44 लाख करोड़ में से 15.28 लाख करोड़ वापस आ गए. हालांकि 1000 रुपये के 8.9 करोड़ नोट बैंकिंग सिस्टम में वापस नहीं लौटे.
  6. नोटबंदी का सबसे बड़ा असर प्रॉपर्टी की खरीद फरोख्त पर पड़ा. इससे रियल स्टेट बाजार बेहद नुकसान में चला गया लेकिन इस क्षेत्र में फैली गंदगी भी साफ हो गई. दरअसल इस क्षेत्र में ब्लैक मनी को खपाया जाता था और कैश में खरीद फरोख्त की जाती थी. नोटबंदी लागू होने के बाद कैश लेनदेन में बेतहाशा कमी आई है.
  7. नोटबंदी के बाद डिजिटल पेमेंट में जबरदस्त उछाल देखने को मिला और लोग मोबाइल से पेमेंट करने लगे. लोगों ने अलग अलग पेमेंट वॉलेट का इस्तेमाल किया लेकिन सर्वाधिक फायदा हुआ पेटीएम को जिसका लोगों ने बहुत अधिक इस्तेमाल किया. सरकार ने भी भीम जैसे एप को उतारा तो गूगल ने भी हाल ही में तेज नाम के एप को मार्केट में उतारा है.
  8. माना जा रहा था कि नोटबंदी से बीजेपी को बड़ा नुकसान हो सकता है लेकिन ऐसा नहीं हुआ और यूपी चुनाव में उसने क्लीन स्वीप किया. देश के अन्य हिस्सों में खास कर ग्रामीण क्षेत्रों में लोग नोटबंदी से खासा खुश दिए, ऐसा तब है जबकि नोटबंदी से कई गरीबों ने बैंकों की लाइन में दम तोड़ दिया और लाखों लोगों को अन्य दिक्कतों का सामना करना पड़ा.
  9. नोटबंदी के चलते जरूरी चीजों की राशनिंग रुक गई. माना जाता है कि इस वजह से जुलाई अगस्त में महंगाई अपने रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गई. सीपीआई 2012 के बाद सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई. सभी चीजों पर इसका असर पड़ा. सीधे लफ्जों में कहें तो लोगों के पास खरीदारी के लिए पैसे नहीं होने के कारण खाने-पीने की चीजों के दाम घट रहे हैं.
  10. एक और बहुत बड़ा फायदा जो नोटबंदी का हुआ वो ये कि बड़ी संख्या में फर्जी कंपनियां पकड़ी गईं. करीब सवा दो लाख कंपनियों को सरकार ने बंद कर दिया. पता ये भी चला कि 35 हजार कंपनियों ने 17 हजार करोड़ रुपये नोटबंदी के दौरान बैंकों में जमा कराए जिन्हें बाद में निकाल लिया गया. 3 लाख डारेक्टर्स को भी अयोग्य घोषित किया गय

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here