डेरा सच्चा सौदा की खुदाई के लिए JCB मशीनें बुलाईं, ऑपरेशन के समय रहेगा सख्त कर्फ्यू…

0
138
views

सिरसा के कमिश्नर प्रभजोत सिंह ने बताया, जब तक ऑपरेशन चलेगा, तब तक कर्फ्यू में कोई ढील नहीं दी जाएगी।

सिरसा.रेप के मामले में सजा काट रहे राम रहीम के सिरसा स्थित डेरा हेडक्वार्टर में शुक्रवार सुबह सर्च ऑपरेशन शुरू हो गया। पंजाब एंड हरियाणा हाईकोर्ट की तरफ अप्वाइंट कोर्ट कमिश्नर एके पंवार ने सिरसा में हाईलेवल मीटिंग की थी। डेरा में तलाशी के लिए 5000 जवानों की तैनाती की गई है। अकाउंट्स खंगालने के लिए 100 बैंक वर्कर्स बुलाए गए हैं। सिरसा के कमिश्नर प्रभजोत सिंह ने बताया, “सर्च ऑपरेशन के मद्देनजर सभी अधिकारियों को उनके काम बता दिए गए हैं। जब तक ऑपरेशन चलेगा, तब तक कर्फ्यू में कोई ढील नहीं दी जाएगी।” बता दें कि 28 अगस्त को सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने राम रहीम को 10-10 यानी 20 साल की सजा सुनाई थी।किस तरह की गई तैयारियां…
एक्शन प्लान: डेरा हेडक्वार्टर में तलाशी अभियान के लिए सैटेलाइट के जरिए डेरा का मैप निकाला गया है। ऑपरेशन के मद्देनजर इसे अलग-अलग हिस्सों में बांटा गया है। इसी बेस पर एक्शन प्लान तैयार किया गया है।
सर्च टीम: तलाशी के लिए 5000 जवानों को तैनात किया गया है। 100 बैंक कर्मियों को बुलाया गया है, ताकि डेरा और राम रहीम के अकाउंट्स को खंगाला जा सके। डेरा में ताला तोड़ने के लिए सर्च टीम में 22 लोहारों को भी शामिल किया गया है।
सिक्युरिटी: डेरा के आसपास 16 नाके बनाए गए। पैरामिलिट्री फोर्सेस की 41 कंपनियां तैनात की गई हैं। इनमें बीएसएफ की 2, आईटीबीपी की 5, सीआरपीएफ की 20, एसएसबी की 12 और आरएएफ की 2 कंपनियां शामिल हैं। आर्मी के 4 कॉलम और 4 जिलों की पुलिस फोर्स भी मौजूद रहेगी। एक डॉग स्क्वॉड और एक स्वैट की टीम की भी तैनाती की गई है।
स्पेशल अरेंजमेंट: राम रहीम को सजा सुनाने के बाद भड़की हिंसा के मद्देनजर स्पेशल सिक्युरिटी अरेंजमेंट भी किए गए हैं। बम स्क्वॉड की 50 मेंबर्स की टीम भी मौजूद रहेगी। इसके अलावा 40 स्वैट कमांडो भी तैनात किए गए हैं।
कौन संभालेगा ऑपरेशन का जिम्मा?
– पानीपत के रिटायर्ड सेशन जज एके पंवार को कमिश्नर अप्वाइंट किया गया है। सर्च ऑपरेशन उनकी निगरानी में होगा।
– आईजी हिसार रेंज अमिताभ ढिल्लों और सिरसा के डीसी प्रभजोत सिंह के अलावा एसपी अश्विन शैणवी, आईपीएस अफसर विरेंद्र विज और दीपक गहलावत भी सर्च ऑपरेशन में शामिल रहेंगे।
किस मामले में बाबा को सजा हुई?
– 2002 में एक साध्वी ने गुमनाम चिट्ठी लिखी। इसमें बताया गया था कि कैसे डेरा सच्चा सौदा के अंदर लड़कियों का सेक्शुअल हैरेसमेंट होता था। यह चिट्ठी पंजाब और हरियाणा कोर्ट को भी भेजी गई थी। इसके बाद डेरा सच्चा सौदा प्रमुख के खिलाफ यौन शोषण का केस शुरू हुआ और सीबीआई ने जांच शुरू की।
– 15 साल बाद सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने गुरमीत राम रहीम सिंह को दोषी करार दिया। माना जाता है कि ये चिट्ठी राम रहीम के 20 साल ड्राइवर रहे रणजीत सिंह की बहन ने लिखी थी। बाद में रणजीत का मर्डर हो गया था। इसका शक भी बाबा समर्थकों पर जताया गया। यह केस भी पंचकुला की सीबीआई अदालत में चल रहा है।
क्या सजा सुनाई कोर्ट ने राम रहीम को?
– डेरा सच्चा सौदा प्रमुख राम रहीम को 28 अगस्त को CBI की स्पेशल कोर्ट ने 10-10 साल की सजा सुनाई। यानी डेरा चीफ को कुल 20 साल जेल में गुजारने होंगे। कोर्ट ने राम रहीम पर कुल 30 लाख रुपए का जुर्माना लगाया। इसमें 15-15 लाख रुपए का जुर्माना दो रेप केस के लिए है। 14-14 लाख रुपए दोनों रेप विक्टिम साध्वियों को हर्जाने के रूप में देने होंगे। सजा सुनाए जाने पर राम रहीम कोर्ट रूम में फूट-फूटकर रोने लगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here