जाट आरक्षण के मुद्दे पर फिर होगी आंदोलन की नई रणनीति तैयार..

0
124
views

रोहतक। अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति अब जाट आरक्षण के मुद्दे पर एक बार फिर आंदोलन करेगी। हरियाणा व राष्ट्रीय कार्यकारिणी की 3 दिसंबर को जसिया में बैठक बुलाई गई है। जिसमें आंदोलन की रणनीति तय होगी। समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष यशपाल मलिक ने 19 मार्च 2017 को सरकार के साथ हुआ समझौता लागू करने की मांग की। रविवार को जसिया में हुई जाट महारैली में इस बारे में प्रस्ताव पास किया गया। इस महारैली में केंद्रीय इस्पात मंत्री बीरेंद्र सिंह, इनेलो नेता अभय चौटाला व पंजाब के पूर्व सांसद जगमीत सिंह बराड़ ने प्रमुख तौर पर शिरकत की।

महारैली के दौरान ही दीनबंधु छोटूराम प्रतियोगी परीक्षा एवं कौशल विकास संस्थान की आधारशिला भी रखी गई। इस महारैली में देश भर से जाट समाज के नेताओं ने शिरकत की। महारैली को सतलोक आश्रम के संचालक रामपाल दास के अनुयायियों का भी समर्थन मिला। समर्थकों की ओर से संस्थान के निर्माण के लिए 15 लाख रूपए नकद मंच से ही दे दिए गए। वहीं, इनेलो नेता अभय चौटाला ने संस्थान के निर्माण के लिए एक करोड़ रूपए चंदा देने की घोषणा की।

रैली के दौरान अपने संबोधन में केंद्रीय इस्पात मंत्री बीरेंद्र सिंह ने जाट समाज के लिए आरक्षण की वकालत की। उन्होंने कहा कि गुर्जर व यादव की तर्ज पर जाट को भी आरक्षण मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि जाट समाज को आरक्षण देकर रहेंगे। केंद्रीय मंत्री ने जोर देकर कहा कि बीरेंद्र सिंह जब बोलता है तो सरकार को भी मानना पड़ता है।

इनेलो नेता अभय चौटाला ने जाट आरक्षण के मुद्दे पर भाजपा सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि जाट आरक्षण के मुद्दे पर भाजपा की नीयत में खोट है। उन्होंने महारैली के दौरान मंच पर ही बैठे केंद्रीय मंत्री बीरेंद्र सिंह पर भी कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि जब जाट समाज अपनी मांगों को लेकर धरने पर बैठा था तब बीरेंद्र सिंह कहां थे। इनेलो नेता ने कहा कि उन्होंने जाट समाज की लड़ाई पहले भी लड़ी है और भविष्य में भी लड़ेंगे। जाट आरक्षण आंदोलन के दौरान आंदोलनकारियों पर दर्ज केस व जेल में बंद आंदोलनकारियों पर भी अभय चौटाला ने प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा सही नहीं है। सरकार चाहे तो एक दिन में आंदोलनकारी जेल से बाहर आ सकते हैं। महारैली को पंजाब के पूर्व सांसद जगमीत सिंह बराड़ ने भी संबोधित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here