चंद्रशेखर के पेट में इंफ़ेक्शन है जिसके लिए उन्हें ज़िला अस्पताल ले जाया गया…

0
108
views

 

भीम सेना के संस्थापक चंद्रशेखर सहारनपुर की जेल में बंद हैं. उन पर बलवा और दंगा कराने और पुलिस पर हमले का नेतृत्व करने के गंभीर आरोप हैं.

जेल प्रशासन ने बीते शनिवार को उन्हें सहारनपुर ज़िला अस्पताल में भर्ती करवाया था.

सहारनपुर जेल के अधीक्षक डॉ. वीरेश राज शर्मा ने बीबीसी को बताया, “चंद्रशेखर के पेट में इंफ़ेक्शन है जिसके लिए उन्हें ज़िला अस्पताल ले जाया गया था.

शर्मा ने बताया, “चंद्रशेखर के स्वास्थ्य की देखरेख करना हमारी ज़िम्मेदारी है. उनकी देखरेख कर रहे डॉक्टरों का कहना है कि सेहत में सुधार हुआ है. ”

वहीं चंद्रशेखर के भाई कमलकिशोर जाटव ने बीबीसी को बताया कि उनकी तबियत करीब एक महीने से ख़राब है. कमलकिशोर के मुताबिक चंद्रशेखर को टाइफ़ाइड भी हुआ था.

हालांकि जेल अधीक्षक का कहना है कि चिकित्सीय जांच में पता चला है कि उन्हें अब टाइफ़ाइड नहीं है.

कमलकिशोर ने मंगलवार को ही चंद्रशेखर से जेल में मुलाकात की थी. उन्होंने बताया, “वो काफ़ी कमज़ोर हो गए हैं और उनके पेट में गंभीर इंफ़ेक्शन है.”

ल इसी साल मई में सहारनपुर में जातीय हिंसा हुई थी. ठाकुर और दलित समाज के लोगों के बीच हुई झड़पों में कई घर भी चला दिए गए थे. पुलिस ने चंद्रशेखर पर इस हिंसा की साज़िश रचने और भीड़ का नेतृत्व करने के आरोप लगाए हैं.

चंद्रशेखर को जून में गिरफ़्तार किया गया था और वो तब से जेल में ही बंद हैं.

इलाज में लापरवाह

कल्याण सिंह कहते हैं, “हमें सिर्फ़ पेट के इंफ़ेक्शन के बारे में ही बताया गया है. टाइफ़ाइड की क्या स्थिति है ये जानकारी नहीं दी गई है. यदि टाइफ़ाइड पूरी तरह ठीक न हो तो ख़तरनाक भी हो सकता है.”

वो कहते हैं, “चंद्रशेखर राजनीतिक बंदी है, इसी आधार पर उनके ख़िलाफ़ भेदभाव भी किया जा रहा है.”

हालांकि जेल प्रशासन ऐसे सभी आरोपों को खारिज करता है. जेल अधीक्षक वीरेश शर्मा कहते हैं कि सेहत में सुधार होने पर ही चंद्रशेखर के ज़िला अस्पताल से जेल अस्पताल लाया गया था.

कल्याण सिंह कहते हैं

स्थानीय अदालत में ज़मानत याचिका रद्द हो जाने के बाद अब हाई कोर्ट में चंद्रशेखर की ज़मानत के लिए याचिका दायर की गई है. कल्याण सिंह कहते हैं कि उन्हें उम्मीद है कि जल्द ही इस याचिका पर सुनवाई होगी और हाई कोर्ट चंद्रशेखर को ज़मानत दे देगा.

भीम आर्मी अब दलित और मुस्लिम युवकों को एकजुट कर उन्हें आत्मरक्षा में प्रशिक्षण देने की तैयारी कर रही है. कल्याण सिंह कहते हैं,

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here