ऑस्ट्रेलिया में समलैंगिक के समर्थन ने उतरे लोग..

1
27
views

 सर्वेक्षण में अपनी राय ज़ाहिर करने के लिए लोग स्वतंत्र हैं और ऐसा करने के लिए कोई बाध्यता नहीं है. एक सर्वेक्षण में आम लोगों से पूछा जा रहा है कि ऑस्ट्रेलिया में समलैंगिक विवाह के लिए क्या क़ानून में बदलाव किया जाना चाहिए.

यहां समलैंगिक विवाह को लेकर काफी पहले से बहस चल रही है. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री टोनी ऐबट समलैंगिक विवाहों के ख़िलाफ़ रहे हैं.ऑस्ट्रेलियाई सांख्यिकी ब्यूरो के अनुसार, शुक्रवार 13 अक्टूबर तक एक करोड़ नागरिकों ने वैवाहिक कानून सर्वेक्षण में मतदान किया है, जो कुल पंजीकृत मतदाताओं का 67.5% है.

सर्वेक्षण में ‘हां’ का विकल्प चुनने के लिए देशभर में रैलियां निकाली जा रही हैं. शनिवार-रविवार को हज़ारों लोगों ने सड़कों पर निकलकर क़ानून में बदलाव के पक्ष में प्रचार किया.

इसके लिए उन्हें काफ़ी विरोध का सामना भी करना पड़ा

ऑस्ट्रेलिया को उदारवादी देश माना जाता रहा है, लेकिन साल 2004 में ऑस्ट्रेलिया ने विवाह अधिनियम 1961 में संशोधन करते हुए समलैंगिक विवाह पर प्रतिबंध लगा दिया था.

20 साल पहले ऑस्ट्रेलिया के तस्मानिया प्रांत ने पुरुष समलैंगिकता को क़ानूनी वैधता प्रदान की थी. तस्मानिया ऐसा करने वाला ऑस्ट्रेलिया का अंतिम राज्य था.

इसके बाद पूरे देश में इस बात पर बहस छिड़ गई और अब सर्वेक्षण के ज़रिए जनमत संग्रह कराया जा रहा है.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here