इन कारणों से डेरा चेयरपर्सन विपासना पर केस दर्ज कर पूछताछ कर सकती है पुलिस….

0
132
views

साध्वी रेप केस में डेरा बाबा के पांच थिंक टैंक में से दो के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज है, फिलहाल दोनों फरार हैं।

सिरसा.साध्वियों से रेप के मामले में रोहतक जेल में 20 साल की सजा काट रहे गुरमीत राम रहीम के बाद उनके राजदारों पर भी शिकंजा कसता नजर आ रहा है। पुलिस अब डेरा की चेयरपर्सन विपासना इंसां और सीनियर वाइस चेयरमैन डॉ. पीआर नैन से पूछताछ करने के लिए उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की तैयारी में है। दोनों बाबा के थिंक टैंक में शामिल हैं। अक्सर विपासना के फोन स्विच ऑफ रहते हैं और अफसरों को उससे पूछताछ में काफी परेशानी आ रही है। बुधवार को पुलिस ने डेरा के आईटी हेड विनीत कुमार और कार को आग लगाकर सबूत मिटाने के आरोपी ड्राइवर हरमेल सिंह को गिरफ्तार किया। साथ ही विनीत से मिली हार्डडिस्क को जांच के लिए भेजा है। मोबाइल बंद रखती है विपासना…
डेरा के थिंक टैंक में 5 लोग शामिल हैं। इनमें विपासना इंसां, डॉ. पीआर नैन, डॉ. आदित्य इंसां और दिलावर इंसां और एक अन्य शामिल है। आदित्य और दिलावर दोनों फरार हैं। पुलिस ने उनके खिलाफ देशद्रोह का केस दर्ज किया है। दोनों डेरा के स्पोक्सपर्सन का जिम्मा संभालते हैं।
– दूसरी ओर, विपासना और डॉ. नैन पर फिलहाल किसी भी तरह का कोई केस दर्ज नहीं है। अभी डेरे का पूरा मैनेजमेंट विपासना देख रही हैं। वह अपने मोबाइल नंबर भी स्विच ऑफ रखती है। ऐसे में अगर जांच अफसरों को उससे कोई पूछताछ करनी होती है तो वे डेरा में मौजूद कुछ अनुयायियों को मैसेज भेजते हैं। तब विपासना फोन पर बात करती है।
पुलिस ने क्या बताया?
– सिरसा के एसपी अश्वनी शैणवी ने बताया कि डेरा मैनेजमेंट की चेयरपर्सन विपासना इंसां और सीनियर वाइस चेयरमैन डॉ. पीआर नैन और अन्य अफसरों से डेरा के आईटी हेड की गिरफ्तारी और हार्डडिस्क से जुड़े सवालों के जवाब लिए जाएंगे। अगर केस बनेगा तो वह भी दर्ज किया जाएगा।
हनीप्रीत से पहले की राजदार है विपासना
– डेरा बाबा गुरमीत राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत तो साल 2011 में डेरा के एपिसोड में आई, लेकिन विपासना तो उससे पहले की मुख्य किरदार है, जिसने डेरा के इंस्टीट्यूट्स में ही पढ़ाई की। एमबीए करने के बाद 2 साल पहले ही उसे डेरा मैनेजमेंट कमेटी का चेयरपर्सन बनाकर डेरा का संचालन सौंपा गया।
– लेकिन हनीप्रीत की नजदीकियां डेरा बाबा के साथ ऐसी हुई कि वह डेरा के बाकी सभी राजदारों को पीछे छोड़ गई और खुद सबसे बड़ी राजदार बनकर राम रहीम को जेल पहुंचाकर खुद फुर्र हो गई। अब पुलिस, रॉ और खुफिया एजेंसियों के अफसर हनीप्रीत को तलाश रहे हैं, लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिला।
कहां है हनीप्रीत?
– हनीप्रीत के गायब होने को को लेकर कई तरह के कयास लगाए जा रहे हैं। एक कयास यह कि वह राजस्थान में किसी ऐसे ठिकाने पर है, जिसका किसी को भेद ही मालूम नहीं हो सकता है।
– वह ठिकाना भी डेरा बाबा की रहस्यमयी गुफा की तरह हो सकता है। दूसरा कयास यह है कि वह नेपाल या किसी अन्य देश में हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here