आलोचक वाले ब्लाॅग ने बना दिया खुद को करोडपति, बनायी दुनिया में पहचान..

0
17
views

 

जब 14 साल की उम्र में इसाबेला ने अपना ब्लॉग शुरू किया तब मुख्यधारा की मीडिया ने इन्हें बिल्कुल भी गंभीरता से नहीं लिया था.

“स्वीडन और ख़ासकर किशोर लड़कियां बहुत जल्दी और तेज़ी से सीख लेती हैं.” वह ब्लॉगिंग बूम के बारे में कहती हैं कि यह एक दशक पहले देश में इसकी एक लहर थी.

“पर मुझे याद है स्वीडन की मीडिया हम पर हँसते हुए कहती थी, उन किशोर महिलाओं की तरफ देखो जो ब्लॉग से बिज़ेनस करने की कोशिश कर रही हैं. हालांकि हमने हार नहीं मानी और मुझे इस पर बहुत गर्व है.”

उपनाम ब्लोंडिनबेला के तहत वह बहुत जल्दी ही नॉर्डिक देशों में सबसे अधिक पढ़ी जाने वाली ब्लॉगर बन गई. और आज लगभग 1.5 मिलियन लोग हर हफ़्ते इनकी साइट पर जाते हैं.

अंग्रेजी, जर्मन और हाल ही में फ़्रांसीसी और अरबी में भी अनुवादित किए गये उनके ब्लॉग फैशन और सुंदरता पर केंद्रित हैं. इसाबेला ब़िजनेस कार्यों और व्यस्त करियर में संतुलन रखने के साथ ही दो छोटे बच्चों का भी पालन-पोषण करती हैं.

खराब लिखने की कला से मिली पहचान

इन सब वजहों ने ही उन्हें आगे की ओर बढ़ने की प्रेरणा और नॉर्डिक में “सामाजिक प्रतिष्ठा” की एक पहचान दी है.

वो कहती हैं, “मैं लेखक से ज़्यादा अपने आप को एक व्यापारी मानती हूं, उन्होंने माना कि जब हम अपने अधिकारियों से बात करते हैं तो मुझे लगता है कि मैं अभी भी काफ़ी बुरा लिखती हूं.”

इसाबेला का बिज़नेस के लिए एक किशोरी के रूप में सबसे पहले स्वभाव दिखा, जब उन्होंने अपने ब्लॉग के लिए कई विज्ञापन और प्रायोजक के डील ढ़ूढने शुरू किये.

जब उनके समकालीन लोग अपनी आय उड़ाते थे तो स्वीडन ने नये उद्यम में निवेश करना चुना- जिसमें उनका अपना ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म स्पॉटलाइफ भी शामिल था, जो नॉर्डिक के युवा लेखकों के लिए एक लोकप्रिय पोर्टल है.

2012 में उन्होंने अपनी ब्यूटी ब्रांड लोवेनग्रिप केयर एंड कलर (LCC) लॉन्च किया, जिसे पिछले साल स्वीडन में तेज़ी से बढ़ रही ब्यूटी कंपनी के रूप में स्थान मिला.

कुछ करने का जुनून

यह कंपनी खुद को ”सौम्य” उत्पादों वाले व्यापारी के रूप में मार्केट करती है जो फेसियल, क्रीम, मस्कारा, शैंपू और बॉडी लोशन जैसी तेज़ प्रभावी उत्पाद बनाती हैं.

ब्लॉगिंग से परे नए व्यापारिक उद्यम में हाथ आजमाने की अपनी कोशिश के निर्णय पर लोवेनग्रिप कहती हैं, “एक कंपनी बनाना मेरा जुनून है”.

“मेरे लिए किसी और का मेकअप या कपड़े पहनना थोड़ा मुश्किल है- मैं सब कुछ बनाना चाहती हूं.”

लेकिन LCC और ब्लॉग एक दूसरे में मज़बूती से बंधे हुए हैं. दोनों बिज़नेस स्टॉकहोम मॉल स्ट्यूरेगैलेरियन के ऊपर स्थित एक ही ऑफ़िस का इस्तेमाल करती हैं और एक साथ कुल 40 कर्मचारियों को रखे हैं.

स्केनकेयर था खास मुददा

वह अक्सर अपने पाठकों से अपने उत्पादों और प्रोजेक्ट के लिए उनकी राय पूछती रहती हैं.

लोवेनग्रिप के अन्य व्यावसायों में जूतों के ब्रांड, कपड़े का लेबल, एक निवेश कंपनी और व्यक्तिगत वित्त कार्यशालाएं शामिल हैं. और पूरे समूह को इस साल 75 मिलियन स्वीडिश क्रोना के सेल की उम्मीद है.

स्टॉकहोम में स्थित मीडिया कमेंटेटर और सांस्कृतिक पत्रिका नोएसगाइडेन के डिजिटल एडिटर फ्रैसा लेविंसन कहते हैं, “जब उन्हें पता चला कि कि लॉनग्रिप में व्यवसाय की प्रतिभा थी, तो उन्हें और अधिक गंभीरता से लिया गया”.

“वह जानती है कि हवा का रुख किस तरफ़ है. उदाहरण के लिए स्वीडन में नारीवादी आंदोलन में स्किनकेयर एक हॉट टॉपिक बन गया है.”

छोडो लोग क्या सोचेंगे

लॉवेनग्रिप ने अपनी सफलता के लिए बिज़नेस से जुड़े पहलुओं को जानने के लिए कई घण्टे अपने आप को शिक्षित करने में लगा देने से लेकर अपने व्यवसाय में “होशियार सहयोगी” के साथ मिलकर काम करने तक जैसे, कई तरह के प्रयास किये.

हालांकि वह मानती है कि करियर बनाने में समय और प्रयास से मेरे व्यक्तिगत जीवन पर दबाव पड़ा है.

वह अपने उन प्रोजेक्ट्स को लेकर भी बहुत स्पष्ट हैं जो नाकाम रहे हैं, इसमें पारंपरिक इगोबूस्ट पत्रिका जिसने कभी मुनाफ़ा नहीं दिया और बेल्मे उनका पहला ऑनलाइन स्टोर भी शामिल हैं जो उनके बिजनेस बेचने के तुरंत बाद दिवालिया हो गया था.

“मैंने उन वर्षों में बहुत कुछ सीखा इसलिए मैं उन सभी ग़लतियों के लिए बहुत आभारी हूं. आपको घोड़े के ऊपर फिर से कूदना होगा और लोग क्या सोचेंगे इससे नहीं डरना होगा.”

27 वर्षीय लोवेनग्रिप कहती हैं कि मैं मानती हूं कि वह “सबसे अच्छी लीडर नहीं हैं” उनका तर्क है कि वह नये विचारों के साथ काम करना बेहतर समझती है. अब उनका फ़ोकस अब LCC की “अगली बिज़नेस वुमन” बनने पर है.

दूसरो से सोच व्यक्त की

स्वीडन की हजारों महिलाओं के लिए एक आइकन होने के बावजूद लोवेनग्रिप को लेकर लोगों की राय अलग अलग रहती हैं.

हाल ही में उन्होंने अपने पति को तलाक दिया है, जिसके बाद उन्होंने कुछ विरोधों का भी सामना किया.

लेकिन दो बच्चों की मां ने कहा कि वो उनकी लाइफ़स्टाइल के लिए आधार पर उन्हें जज किए जाने को ख़ारिज करती हैं.

वह कहती है, “मेरे लिए मेरे बिज़नेस और मेरे परिवार के बीच चयन करना जरूरी नहीं है.”

“और अगर मैं अपने आप से खुश हूं तो मैं एक बेहतर मां, एक बेहतर सहयोगी और बेहतर लीडर हूं.”

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here